Categories
कक्षा 10 भूगोल

भारत में सड़क परिवहन कक्षा 10 भूगोल नोट्स

भारत में सड़क परिवहन की जब बात होती है तो यह बहुत ही अनोखा विषय बन जाता है l भारत की भौगोलिक विभिन्नता इसका मुख्य कारण है l भारत में सड़क परिवहन l कक्षा 10 भूगोल नोट्स के अंतर्गत आज आपको भारत में सड़क और रेल परिवहन पर नोट्स मिलेगी l भारत में सड़के मुख्य रूप से 6 प्रकार की पाई जाती हैभारत में सड़क परिवहन की जब बात होती है तो यह बहुत ही अनोखा विषय बन जाता है l भारत की भौगोलिक विभिन्नता इसका मुख्य कारण है l

  • व्यापार, संचार और परिवहन किसी भी राष्ट्र की जीवन रेखा होती है l भारत में सड़क परिवहन l वस्तुओं को एक स्थान से दुसरे स्थान तक पहुचाने के लिए विभिन्न प्रकार की परिवहन के साधनो का उपयोग किया जाता है l रेलवे, वायुयान, मालवाहक और यात्री वाहन, पानी में चलने वाले जहाज और नाव इत्यादि का उपयोग परिवहन के साधन के रूप में किया जाता है l
  • वस्तुओं को एक स्थान से दुसरे स्थान पर पहुचाने के लिए तीन माध्यमों का उपयोग होता है : स्थल, जल और वायु l इन्ही के आधार पर परिवहन के साधन को प्रकार में बाँटा गया है :
कक्षा 10 भूगोल चैप्टर 10 नोट्स
कक्षा 10 भूगोल चैप्टर 10 नोट्स

भारत में सड़क परिवहन

  • भारत में सड़कों का जाल 23 लाख किलोमीटर से भी अधिक है l भारत भौगौलिक रूप से बहुत विशाल देश है l यहाँ छोटी और बड़ी, कच्ची और पक्की सभी प्रकार की सड़के है l भारत में निम्नलिखित प्रकार की सड़के पाई जाती है :
कक्षा 10 भूगोल चैप्टर 10 नोट्स
कक्षा 10 भूगोल चैप्टर 10 नोट्स

राष्ट्रीय राजमार्ग ( NATIONAL HIGHWAY) : भारत में सड़क परिवहन के रूप में वरदान

  • राष्ट्रीय राजमार्ग वे सड़के होती है जो एक राज्य से दुसरे और फिर तीसरे और लगभग कई राज्यों को आपस में जोड़ती है l राष्ट्रीय राजमार्ग की देखरेख केन्द्रीय लोक निर्माण विभाग(CPWD) करती है l
  • भारत में बहुत सारे राष्ट्रीय राजमार्ग है l राजमार्ग संख्या 7 देश का सबसे बड़ा राजमार्ग है l राजमार्ग संख्या 7 की लम्बाई 2369 किमी है l
  • भारत सरकार ने 6 लेन वाली सड़कों का एक नेटवर्क बनाया है जिसे स्वर्णिम चतुर्भुज कहा जाता है क्योकि यह एक चतुर्भुज की आकृति बनाते है l इसकी देखरेख के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण(National Highway Authority of India( NHAI)) बनाया गया है l
  • ये राजमार्ग दिल्ली, कोलकत्ता, चेन्नई और मुम्बई को आपस में जोड़ती है l
(स्वर्णिम चतुर्भुज) भारत में सड़क परिवहन
स्वर्णिम चतुर्भुज

राज्य राजमार्ग

किसी राज्य में जिला मुख्यालय को राज्य की राजधानी से जोड़ने वाली सड़के राज्य राजमार्ग कहलाते है l उदारहण के लिए पटना बिहार की राजधानी है वह सड़क जो बिहार के अलग अलग जिला मुख्यालय को पटना से जोड़ती है उसे राज्य राजमार्ग कहेंगे l इसकी देखरेख राज्य का लोक निर्माण विभाग(PWD) करता है l

जिला सड़के

यह सड़के जिले के विभिन्न प्रशासनिक केन्द्रों को जिला मुख्यालय से जोड़ती है l इन सड़कों की रख रखाव की जिम्मेदारी जिला परिषद् की होती है l

भारत में सड़क परिवहन
भारत में सड़के

अन्य सड़के

गाँवों और ग्रामीण क्षेत्रों को शहर की मुख्य सड़क से जोड़ने वाली सड़के अन्य सड़कों की श्रेणी में आती है l इन सड़कों की रख रखाव की जिम्मेदारी ग्राम प्रधान और ब्लाक प्रमुख की होती है l

सीमान्त सड़के

ऎसी सड़के जो अंतर्राष्ट्रीय सीमा के आस पास वाले इलाकों में बनाई जाती है उसे सीमान्त सड़के कहते है l सीमावर्ती इलाको में सड़कों का निर्माण और रख रखाव की जिम्मेदारी सीमा सड़क संगठन (Border Road Organisation) की है l ये संगठन 1960 में बनाया गया था l सीमा सड़क संगठन सीमान्त क्षेत्रों मे सामरिक महत्त्व की सड़कों का निर्माण करती है l  

सड़क घनत्व

प्रति 100 वर्ग किलोमीटर में सड़कों की कुल लम्बाई को सड़क घनत्व कहते है l जम्मू और कश्मीर में सबसे कम सड़क घनत्व 10 किलोमीटर और केरल में सबसे ज्यादा 375 किलोमीटर सड़क घनत्व है l  

रेल परिवहन

कक्षा 9 भूगोल नोट्स के अनार्गत आज भारत में रेल यात्रियों, वस्तुओं और सेवाओ के परिवहन का प्रमुख साधन है l रेलवे का मुख्य रूप से उपयोंग व्यापार, तीर्थयात्रा और भ्रमण के साथ साथ लम्बी दूरी की यात्रा के लिया किया जाता है l यह लम्बी दूरी की यात्रा का सुगम और सस्ता साधन है l किसी भी देश के आर्थिक विकास के लिए रेलवे अर्थव्यवस्था की रीढ़ की हड्डी होती है l भारत में रेलवे की लम्बाई 63974 किमी है l

भारतीय रेल में रेलवे लाइन की चौड़ाई के नाम पर रेलवे लाइन को तीन प्रकार की गेज का उपयोग होता है :

  • बड़ी लाइन (1.67m)
  • मीटर लाइन (1 m )
  • छोटी लाइन (0.61 और 0.76  m)

भारत में रेलवे की शुरुआत 1853 में हुई थी जब पहली ट्रेन मुम्बई से ठाणे तक चलाई गयी थी l

भारतीय रेल को 18 प्रखंडो(मंडलों) में बाँटा गया है( स्कूली छात्रो के लिए नाम याद करना जरूरी नहीं )

  1. उत्तर पश्चिम रेलवे
  2. उत्तर मध्य रेलवे
  3. उत्तर रेलवे
  4. दक्षिण पश्चिम रेलवे
  5. दक्षिण मध्य रेलवे
  6. दक्षिण रेलवे
  7. दक्षिणपूर्व मध्य रेलवे
  8. दक्षिण पूर्व रेलवे
  9. पश्चिम मध्य रेलवे
  10. पश्चिम रेलवे
  11. पूर्व तटीय रेलवे
  12. पूर्व रेलवे
  13. पूर्व मध्य रेलवे
  14. पूर्वोत्तर रेलवे
  15. पूर्वोत्तर सीमान्त रेलवे
  16. मध्य रेलवे
  17. कोंकण रेलवे
  18. कोलकाता मेट्रो रेलवे
  19. दक्षिण तटीय रेलवे
कक्षा 10 भूगोल चैप्टर 10 नोट्स 
भारत में सड़क परिवहन
भारतीय रेलवे प्रखंड कक्षा 10 भूगोल चैप्टर 10 नोट्स

भारतीय रेलवे के समक्ष चुनौतियाँ

  • देश में रेलवे के वितरण को प्रभावित करने वाले निम्न कारण है :
  • भू आकृतिक कारक : पहाड़ियाँ, उबड़ खाबड़ और उच्चावच l
  • आर्थिक कारक : रेलवे लाइन का विस्तार करने के लिए बहुत अधिक धन और समय की आवश्यकता होती है l बहुत से यात्री बिना टिकट यात्रा करते है l
  • प्रशासकीय कारक : रेलवे लाइन का विस्तार करने के लिए पर्यावरण सम्बन्धी मंजूरी, ;भूमि के अधिग्रहण और बजट सम्बन्धी बहुत से चुनौतियाँ होती है l
  • अन्य कारक : सुरक्षा सम्बन्धी, ट्रेनों का लेट होने, आवश्यकता से अधिक यात्रियों का सफ़र करना इत्यादि समस्याएँ l

कक्षा 10 भूगोल नोट्स के अगले टॉपिक के लिए यहाँ क्लिक करे l

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *